काशी विश्वनाथ मंदिर :

काशी विश्वनाथ मंदिर : युगों – युगों से बहती गंगा, जब गंगोत्री से निकलती हुई हरिद्वार, प्रयाग के रास्ते जब बनारस की धरती को स्पर्श करती है तो उस समय का दृश्य बड़ा अद्भुत और मनोरम होता है