चालीसा/स्तोत्रं

सम्पूर्ण सुंदरकांड

सम्पूर्ण सुंदरकांड

सम्पूर्ण सुंदरकांड – तुलसीदास जी ने रामचरितमानस की रचना, महर्षि बाल्मीकि जी की रामायण को आधार बनाकर की है, सम्पूर्ण सुंदरकांड – रामचरितमानस का ही पंचम सोपान है, इसमें हनुमान

Enjoy the 5 benefits of Mahishasura Mardini Stotram

Mahishasura Mardini Stotram

महिषासुरमर्दिनि स्तोत्रं – मां दुर्गा हिंदुओं की प्रमुख देवी है| जिन्हें शक्ति की देवी कहा जाता है| इनकी तुलना परम ब्रह्म से की गई है| इन्हें जगदंबा भी कहते हैं| इन्हें गुणवती

शिव तांडव स्तोत्रम- जानिये शिव तांडव स्तोत्रम का फल, एक बार सुनने से ही आप रोज़ सुनना चाहेंगे

शिव तांडव स्तोत्रम

शिव तांडव स्तोत्रम : पुराणों के अनुसार जब रावण ने समूचे कैलाश पर्वत को अपने हाथों में उठाकर पूरे पर्वत को ही लंका ले जाने लगा | उस समय, उसे अपनी शक्ति पर पूरा अहंकार आ गया उसका यह रूप भगवान शिव को पसंद नहीं आया और भगवान शिव ने अपने पैर के अंगूठे से कैलाश पर्वत को थोड़ा दबा दिया,

Kalabhairvashtakam Stotram-कालभैरवाष्टकम् स्तोत्रं

Kalabhairvashtakam Stotram

कालभैरवाष्टकम् स्तोत्रं का नियमित पाठ हमे हमारे बुरे ग्रहों से सुरक्षा प्रदान करता है, काशी में जहाँ विश्वनाथ बाबा का दरबार, ठीक वहीँ काशी के कोतवाल श्री भैरव जी का भी अंदाज़ निराला है, काशी अपनी परंपराओं और मान्यताओं के