ओम जय जगदीश हरे

ओम जय जगदीश हरे- Enjoy 1 of the best Aarti

Please Subscribe us
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Choose your preferred language at the top right bar

Om Jai Jagdish Hare

ओम जय जगदीश हरे– यह भगवान श्री नारायण जी की सबसे प्रचलित आरती है जो कि प्राचीन काल से ही चली आ रही है | भक्तगण इसी आरती से श्री नारायण स्वामी जी का पूजन करते हैं | यह आरती नारायण जी के हर पूजन के बाद गाने की प्रथा है | भक्त इस आरती में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं और सबसे बड़ी बात, यह आरती श्री नारायण स्वामी के समाप्ति पूजन के समय गाये जाते हैं | यहां तक की, यह आरती  श्री सत्यनारायण पूजा में भी गाया जाता है | पूरे वर्ष भक्तों के द्वारा श्री नारायण स्वामी की पूजा जहाँ भी होती है, यह प्रचलित आरती है |

ओम जय जगदीश हरे
Narayan Swami

संकष्टी चतुर्थी व्रत, तिथी व पूजा के महत्व को जाने

श्री नारायण स्वामी के मंदिरों में तो इसे हर दिन ही गाया जाता है | जहां श्री नारायण स्वामी की प्रतिमा है | भक्तगण इस आरती के द्वारा  भगवान श्री नारायण जी के सामने मदद की गुहार करते हैं | यह आरती भक्तजनों को तृप्त करता है | अतः आप सभी इस आरती को गाकर सुख का अनुभव प्राप्त करें और इस आरती में दिए गए हर श्लोकों को समझे | सबसे बड़ी बात इस आरती के बिना नारायण जी की पूजा का समापन करना संभव नहीं है अतः यह सबसे प्रचलित आरती है |

सत्यनारायण स्वामी जी की आरती नीचे दी गई है, सत्यनारायण जी की आरती का मज़ा ही अलग है, आप नीचे gaana.com के ऑडियो लिंक को फाेलो करके श्री नारायण स्वामी की आरती का भरपूर आनंद प्राप्त कर सकते हैं :

Hit this Link for सत्यनारायण व्रत-कथा

Aarti in Hindi

ॐ जय जगदीश हरे स्वामी जय जगदीश हरे,
भक्तजनों के संकट क्षण में दूर करे-ॐ जय जगदीश हरे ||
जो ध्यावे फल पावे दुःख विनशे मन का
सुख संपति घर आवे कष्ट मिटे तन का-ॐ जय जगदीश हरे ||

मात-पिता तुम मेरे शरण गहुँ मैं किसकी
तुम बिन और न दूजा आस करू मैं जिसकी-ॐ जय जगदीश हरे ||
तुम पूरण परमात्मा तुम अंतर्यामी
पारब्रम्हा परमेश्वर तुम सबके स्वामी -ॐ जय जगदीश हरे ||

तुम करुणा के सागर तुम पालन करता
मैं मुरख खलकामी कृपा करो भरता-ॐ जय जगदीश हरे ||
तुम हो एक अगोचर सबके प्राण-पती
किस विधि मिलूं दयामय तुमको मैं कुमती-ॐ जय जगदीश हरे ||

दीनबंधु दुखहर्ता तुम रक्षक मेरे
अपने हाथ उठाओ द्वार पड़ा तेरे-ॐ जय जगदीश हरे ||
विषय विकार मिटाओ पाप हरो देवा
श्रद्धा भक्ति बढाओ संतन की सेवा-ॐ जय जगदीश हरे ||

श्री जगदीश जी की आरती, जो कोई नर गावे
कहत शिवानंद स्वामी, सुख संपति पावे-ॐ जय जगदीश हरे ||

Listen to the Best Krishna Bhajan- अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं

English Conversion

Om jay jagadeesh hare, Svaamee jay jagadeesh hare,
Bhaktajano ke sankat, Kshan mein door kare-Om jay jagadeesh hare ||
Jo dhyaave phal paave, Dukh vinashe mann ka
Sukh sampatti ghar aave, Kasht mite tan ka-Om jay jagadeesh hare ||


Maat-pita tum mere, Sharan gahun main kiskee
Tum bin aur na dooja, Aas karoo main jisakee-Om jay jagadeesh hare ||
Tum pooran parmaatma, Tum antaryaamee
Paarbramha parmeshvar, Tum sabake swami -Om jay jagadeesh hare ||


Tum karuna ke saagar, Tum paalan karata
Main murakh khalkaamee, Kripa karo bharata-Om jay jagadeesh hare ||

Tum ho ek agochar, Sabake praan-patee
Kis vidhi miloon dayaamay, tumako main kumatee-Om jay jagadeesh hare ||


Deen-bandhu dukh-harta, tum rakshak mere
Apne haath uthao, dwaar pada tere-Om jay jagadeesh hare ||
Vishay vikaar mitao, paap haro deva
Shraddha bhakti badhao, santan kee seva-Om jay jagadeesh hare ||


Shree jagadeesh jee kee aaratee, jo koee nar gaave
Kahat shivanand swami, sukh sampati paave-Om jay jagadeesh hare ||

नवरात्रि 2021 की महत्वपूर्ण तिथियाँ, भक्ति गीत व समस्त विवरण जाने

 Satya Narayan Puja fast date 2021

प्रारंभ दिन माह की  पूर्णिमा पूर्णिमा तिथी समाप्त 
28 जनवरीगुरुवारपौष पूर्णिमा01.17 – 00.4529 जनवरी
27 फरवरीशनिवारमाघ पूर्णिमा15.49 – 13:4628 फरवरी
28 मार्चरविवारफाल्गुन पूर्णिमा03:27 – 00:1729 मार्च
26 अप्रैलमंगलवारचैत्र पूर्णिमा12:44 – 09:0127 अप्रैल
25 मईबुधवारवैशाख पूर्णिमा20:29 – 16:4326 मई
24 जूनगुरुवारज्येष्ठ पूर्णिमा03:32 – 00:0925 जून
23 जुलाईशनिवारआषाढ़ पूर्णिमा10:43 – 08:0624 जुलाई
21 अगस्तरविवारश्रावण पूर्णिमा19:00 – 17:3122 अगस्त
20 सितम्बरसोमवारभाद्रपद पूर्णिमा05:28 – 05:2421 सितम्बर
19 अक्टूबरबुधवारआश्विन पूर्णिमा19:03 – 20:2620 अक्टूबर
18 नवम्बरशुक्रवारकार्तिक पूर्णिमा12:00 – 14:2619 नवम्बर
18 दिसम्बररविवारमार्गशीर्ष पूर्णिमा07:24 – 10:0519 दिसम्बर
satyanaaraayan vrat katha 2021

Listen to Om Jai Jagdish Hare Aarti

Om Jai Jagdish Hare

गीताप्रेस के इस लिंक पर जाएँ